शून्यता

काल का अट्टहास

होते हुये न होने का अहसास

श्वास नि:श्वास 

अनवरत चक्र 

जनम बचपन 

जवानी ज़रा 

जीव का प्रवास

न होते हुये भी होने का अहसास

 श्वास नि:श्वास 

अनवरत चक्र 

क्षण क्षण परिवर्तन 

शनै: शनै: क्षरण 

जीव का इतिहास

२४ मार्च २०२१

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.