अम्मा की “निमोना” बनाने की विधि

मेरी माँ सब माँओं जैसी है । पर हर “अपनी” माँ हर “अपने” लिये विशेष होती है। अम्मा की कथा लिखने की कोशिश शुरू की है मैअम्मा हूं ! अम्मा ने खाना बनाने का काम बहुत कम उम्र से किया पहले अपने घर फिर शादी बाद हमारे गाँव में संयुक्त परिवार में सालों तक रहीं । फिर जहां जहां बाबूजी नौकरी पर गये या ले गये दिल्ली, नीलोखेरी, देहरादून, दिल्ली, गुड़गाँव …

मैंने अम्मा को चूल्हे पर, अंगीठी पर, गैस स्टोव पर, बिजली के स्टोव पर और कुकिंग गैस स्टोव पर खाना बनाते देखा है !

अब अम्मा की तबियत ठीक नहीं रहती । नहीं तो अम्मा बेकिंग भी कर लेतीं ।

लगभग सात साल पहले जब अम्मा की तबियत ख़राब होने लगी थी तब नेहा सिन्हा आती थी कुछ समय बिताने अम्मा के पास। नेहा मनोविज्ञान प्रशिक्षित हैं। अम्मा को बातचीत में लगाने के लिये नेहा ने तरीक़ा ढूँढा अम्मा के प्रिय विषय खाना बनाने का। उसी बातचीत के आधार पर नेहा ने एक ब्लाग बनाया। फ़ोटो मेरी बहन ने लिये । उस ब्लाग से ही निमोना की यह रेसिपी मैं हिंदी में लिख रहा हूँ ।


सर्दियों के मौसम हो और हमारे घर निमोना न बने ऐसा हो ही नहीं सकता। बस खूब सारे मटर मंगा लो और बड़े आसानी से बिना कोई झंझट के बना लो । कभी दाल खाने का मन न करता हो तो चावल के साथ खा सकते हो ।

हमारे घर में हमारी श्रेया और मुन्नी को बहुत पसंद है। बाक़ी हमें तो अच्छा लगता ही है।

हमें फ्रोजेन मटर अच्छा नहीं लगता। मैं तो हमेशा ताजों मटर मँगवाती हूँ । छील कर ज़रूरत अनुसार स्टोर कर लेती हूँ । स्टोर करने के पहले मटर के दानों को खौलते पानी में डाल दो । गैस बंद कर ढक कर चूल्हे पर ही एक मिनट रखे रहो । फिर छलनी से छान कर पानी को छाँव में सुंखा कर मटर के दानों को पालीथिन के बैग में डाल फ़्रीज़ में रख दो। जब ज़रूरत पड़े आलू मटर या मटर पुलाव बना लो !

आज मैं निमोना बनाने की विधि बता रही हूँ !

सामग्री:

आलू 2-3 मध्यम साइज़ के
मटर 1/2 किलो
हींग एक चुटकी
प्याज़ लहसुन अदरक का पेस्ट एक टेबल चम्मच
गर्म मसाला 1 टेबल चम्मच स्वादानुसार
धनिया पावडर 2 टेबल चम्मच Dhania powder- 2 tsp
मिर्च पावडर आधा टेबल चम्मच Mirchi powder- half tsp (according to taste)
लौंग – 4
तेल – 1 टेबल चम्मच
घी – 1 टेबल चम्मच

विधि:

  • कड़ाही में तेल गर्म कर एक चुटकी हींग डाल दो
  • आलू को छोटे टुकड़ों में काट कर हल्का तल लो और कड़ाही से बाहर निकाल लो
  • थोड़े मटर खड़े छोड़ दो । बाक़ी को इमामदस्ते में कूट लो या मिक्सर में पीस लो। पर ध्यान रहे कुछ मटर के दाने आधे कूटे या पीसे हों ।

 

  • अब उसी कड़ाही में जिसमें आलू तला गया था आँधी कटी पीसी मटर को डाल कर हल्की आँच पर भूनो । स्वाद के लिये आधा चम्मच घी डाल दो।
  • अदरक लहसुन प्याज़ के पेस्ट को मटर में मिला दो। धनिया और मिर्च पावडर मिला कर अच्छे से भूनो।.
  • भूनने के बाद कड़ाही में दो कप पानी डाल दो । दाल जैसा गाढ़ापन आ जाये।
  • गर्म मसाला डाल दो
  • अलग से कड़ी में देशी घी में लौंग का तड़का लगाओ और निमोना को छौंक दो

गरम गरम चावल बनाओ उस पर निमोना डालो और खाओ !

Published by

Vrikshamandir

A novice blogger who likes to read and write and share